खोजें
हिंदी
सभी श्रेणियाँ
    Menu Close

    अहिंसक प्रक्षाल किट

    अहिंसक प्रक्षाल किट

    मंदिर में उपयोग में अने वाले वस्त्र मिल द्वारा बन रहे कपड़ो में चर्बी होती है।
    इसलिए हमें हथकरघों में बने कपड़ो का उपयोग करना चाहिए जिससे हम हमारा धर्म शुद्ध अहिंसक पद्धति से पाल सके इसी श्रृंखला में आचार्य श्री विद्यासारग जी महाराज के श्री आशीर्वाद से हमने अपना एक कदम बढ़ाया है
    हमारे द्वारा हम सभी मंदिरों में प्रक्षाल किट आजीवन निशुलुक देंगे जिसमे श्रीजी के प्रक्षाल का सफेद वस्त्र, मार्जन का कोरा वस्त्र एवं पानी के नलो की थैली होंगी।
    देश के किसी भी कोने में हम कुरियर द्वारा जानकारी आने पर अहिंसक प्रक्षाल किट भेजेंगे जिसका मंदिर जी से कोई राशि नही ली जायेगी।
    आप भी इस श्रंखला में हमारे साथ जुड़ सकते है 
    आप की द्वारा दी गई अहिंसक प्रक्षाल किट की स्वीकृती से हमारे द्वारा जहा भी आप की स्वीकृती वाली प्रक्षाल किट जाएगी उसकी जानकारी watsapp के माध्यम से आप को देदी जाएगी जिससे आप को भी अप्रत्यक्ष रूप से सभी छेत्रो से जुड़ने का लाभ मिलेगा।

    साथ में अगर आप को लगता है की हमे किसी मंदिर जी या कोई क्षेत्र में ये किट बुलानी है तो आप हमे वहा का पता और फोन नंबर देकर बुलवा भी सकते है।
    "अहिंसा परमो धर्मः

    ₹ 401.00
    ₹ 351.00
    h i
    मूल्य में शिपिंग शुल्क शामिल हैं
    डिलीवरी की तारीख: 5-8 दिन
    विवरण

    अहिंसक प्रक्षाल किट

    मंदिर में उपयोग में अने वाले वस्त्र मिल द्वारा बन रहे कपड़ो में चर्बी होती है।
    इसलिए हमें हथकरघों में बने कपड़ो का उपयोग करना चाहिए जिससे हम हमारा धर्म शुद्ध अहिंसक पद्धति से पाल सके इसी श्रृंखला में आचार्य श्री विद्यासारग जी महाराज के श्री आशीर्वाद से हमने अपना एक कदम बढ़ाया है
    हमारे द्वारा हम सभी मंदिरों में प्रक्षाल किट आजीवन निशुलुक देंगे जिसमे श्रीजी के प्रक्षाल का सफेद वस्त्र, मार्जन का कोरा वस्त्र एवं पानी के नलो की थैली होंगी।
    देश के किसी भी कोने में हम कुरियर द्वारा जानकारी आने पर अहिंसक प्रक्षाल किट भेजेंगे जिसका मंदिर जी से कोई राशि नही ली जायेगी।
    आप भी इस श्रंखला में हमारे साथ जुड़ सकते है 
    आप की द्वारा दी गई अहिंसक प्रक्षाल किट की स्वीकृती से हमारे द्वारा जहा भी आप की स्वीकृती वाली प्रक्षाल किट जाएगी उसकी जानकारी watsapp के माध्यम से आप को देदी जाएगी जिससे आप को भी अप्रत्यक्ष रूप से सभी छेत्रो से जुड़ने का लाभ मिलेगा।

    साथ में अगर आप को लगता है की हमे किसी मंदिर जी या कोई क्षेत्र में ये किट बुलानी है तो आप हमे वहा का पता और फोन नंबर देकर बुलवा भी सकते है।
    "अहिंसा परमो धर्मः