શોધો
ગુજરાતી
બધા શ્રેણીઓ
    Menu Close
    #1
    अंतरिक्ष के पास प्रभुजी अब दरवाज़े खोलो तूम | जैन सॉन्ग
    छोटा सा है एक झरोखा दर्शन उससे होते है
    JAINKART TEAM |
    #2
    श्री गौतम चालीसा
    श्री गौतम चालीसा अंगूठे अमृत वसे लब्धि तणा भंडार श्री गुरु गौतम सामरिए वांछित फल दातार ||
    JAINKART TEAM |
    #3
    वैरागी ने वंदन
    बनवा अणगार करवा भवपार,  तोड्यो जेणे संसारनो बंधन वैरागी ने वंदन, वैरागी ने वंदन....
    JAINKART TEAM |
    #4
    तेरी मिट्ठी | मेरे गुरु | जैन सॉन्ग
    ओ मेरे गुरु अफ़सोस नहीं , जो तेरे लिए १०० दर्द सहे मेह्फूस रहे तेरी जान सदा , चाहे जान मेरी यह रहे न रहे
    JAINKART TEAM |