શોધો
ગુજરાતી
બધા શ્રેણીઓ
    Menu Close
    Back to all

    दादा तेरी तस्वीर

    दादा तेरी तस्वीर सिरहाने रखकर सोते हैं यही सोचकर अपने दोनों नैन भीगोते है

    दादा तेरी तस्वीर सिरहाने रखकर सोते हैं
    यही सोचकर अपने दोनों नैन भीगोते है
    कभी तो तस्वीर से निकलोगे
    कभी तो भेरू दादा पिघलोगे

    हर आहट पर लगता मेरे दादा घर आये हैं
    हर बार मेरा दिल टुटा मेरी अँखियाँ भर आई हैं
    नींद न आये करवट बदल बदल कर सोते हैं
    यही सोचकर अपने दोनों नैन भीगोते है

    जाने कब आ जाये हम आँगन रोज गुहारें
    दादा इस छोटे से घर का कोना कोना संवारे
    जिस दिन दादा नहीं आते जी भरकर रोते हैं
    यही सोचकर अपने दोनों नैन भीगोते है


    यही सोचके घबराये क्या हम इसके हक़दार है
    जितना मुझको प्यार है क्या तुमको भी प्यार हैं
    यही सोचकर आँखे मसल मसल कर रोते हैं
    यही सोचकर अपने दोनों नैन भीगोते है


    दादा तेरी तस्वीर सिरहाने रखकर सोते हैं
    यही सोचकर अपने दोनों नैन भीगोते है

     

    ટિપ્પણીઓ
    તમારી ટિપ્પણી મૂકો Close